गणतंत्र दिवस

0
525

गणतंत्र दिवस 26 January in Hindi Republic Day

गणतंत्र दिवस

समस्त भारतवासी २६ जनवरी को गणतन्त्र दिवस के रूप में बड़े हर्ष उल्लास के साथ मनाते हैं . यह भारत का एक राष्ट्रीय पर्व हैं . भारत में कुल 3 राष्ट्रिय पर्व हैं . 26 जनवरी 1950 के दिन हमारे देश का सविधान लागु हुआ था . इसी कारण हम हर साल की 26 जनवरी को गणतन्त्र दिवस के रूप में मनाते हैं . भारत का सविधान को सविधान सभा के द्वारा 26 नवम्बर 1949 को ही पारित कर दिया गया था . लेकीन  इसको 26 january 1950 को लागु किया गया . सविधान लागु होने के साथ ही भारत गणतन्त्र बन गया .

गणतन्त्र दिवस का मुख्य कार्यक्रम भारत की राजधानी नई दिल्ली में आयोजित होता हैं . यह समारोह बहुत ही भव्य होता हैं . इस दिन हमारे देश की शहीदों को भी याद किया जाता हैं . इस अवसर पर किसी दुसरे देश से भी कोई महमान बुलाया जाता हैं . इस दिन सेना की परेड़ भी होती हैं . सेना की परेड़ के बाद रंगारंग सांस्‍कृतिक  कार्यक्रम होता हैं . जिसमें अखंड भारत की झलकी दिखती हैं . इस दिन भारतीय सेना के द्वरा नवीन हथियारों , मिसाइलो ,लड़ाकू विमानों आदि का प्रदर्शन किया जाता हैं . इस बार इस कार्यक्रम में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को आमंत्रित किया गया हैं .

इस कार्यक्रम में अब तक कई देशो के प्रतिनिधियों को बुलाया गया हैं . जिनमे हैं –

सुकर्णो , इंडोनेशियाई राष्ट्रपति

मोहम्मद ख़ातमी, ईरान के राष्ट्रपति

लुईज़ इनासियो लूला द सिल्वा, ब्राज़ील के राष्ट्रपति

वांगचुक ,भूटान नरेश

अब्दुल्ला बिन अब्दुल अज़ीज़ अल-सऊद, सउदी अरब के शाह

व्लादिमीर पुतिन, रूस के राष्ट्रपति

निकोलस सर्कोजी, फ्रांस के राष्ट्रपति

नूर सुल्तान नजरबायेब, कज़ाख़िस्तान के राष्ट्रपति

ली म्यूंग बाक, कोरिया गणराज्य (दक्षिण कोरिया) के राष्ट्रपति

सुसिलो बाम्बांग युधोयोनो, इंडोनेशिया के राष्ट्रपति

यींगलक शिनावात्रा, थाइलैण्ड की प्रथम महिला प्रधानमन्त्री

जिग्मे खेसर नामग्यल वांग्चुक, भूटान नरेश

शिंजो अबे, जापान के प्रधानमन्त्री

साथ ही राज्य स्तर पर भी कई कार्यक्रम होते हैं . इस दिन स्कूल के बच्चों में एक खास उत्साह होता हैं .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here